ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
यह वक्त मिलकर पीड़ितों की मदद करने का हैः शिवराजसिंह चौहान
September 16, 2019 • राहुल यादव

         भोपाल। मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ और प्रशासन को भी अपील करना चाहता हूं कि शिवराज जहां जाता है, वहां आप लोग विरोध करना शुरू कर देते हैं। यह वक्त गाली देने का नहीं है, बल्कि एक साथ मिलकर बाढ़ पीड़ितों की सहायता करने का है, उनका सहयोग करें उनकी मदद करें। चौहान ने कहा कि यह सब क्यों हुआ, क्या हुआ, कैसे हुआ, इसकी राजनीति हम बाद में कर लेंगे। पहली प्राथमिकता जिन लोगों का सब कुछ बाढ़ में बह गया उनकी मदद करना है। चौहान अतिवर्षा से हुए नुकसान एवं पीड़ित लोगों से मिलने मंदसौर प्रवास पर हैं।

हम यहां सहयोग के लिए आए हैं

             चौहान ने कहा कि इस क्षेत्र में स्थिति भयानक है, जनता संकट में है। हम चुप नहीं बैठ सकते। हमारा धर्म और कर्तव्य हमें पुकार रहा है कि हम जनता की सेवा के लिए जो बेहतर कर सकें, वह करने का प्रयास करें। मैं यहां यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम लोग यहां विरोध के लिए नहीं, बल्कि सहयोग के लिए आए हैं। हमारी पहली प्राथमिकता है कि पानी में घिरे जो लोग हैं, गांव हैं, उनको राहत मिल सके। रेस्क्यू ऑपरेशन के साथ तत्काल राहत बहुत जरूरी है। हम सभी के मन में एक ही भाव है कि इस समय आरोप-प्रत्यारोप नहीं प्रशासन को फुल सपोर्ट, फुल को-ऑपरेट करना है, ताकि इस समय हम जनता को इस संकट से निकाल सकें।

बाढ़ पीड़ितों की सेवा कर मनाएंगे प्रधानमंत्री का जन्मदिवस

              चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री का जन्मदिन 17 सितंबर को है। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी पूरे देश में सेवा सप्ताह मना रही है। हम सभी यहां मंदसौर और नीमच में बाढ़ पीड़ितों की सेवा के लिए खुद को झोंकेंगे। मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस के लोगों से यह अपील करता हॅू कि यह समय ' मैं और तू' करने का नहीं है। आइए हम साथ मिलकर के अपने लोगों की सेवा में जुटें। चौहान ने अपनी 1 माह की तनख्वाह एवं सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक जगदीश देवड़ा,  यशपाल सिंह सिसोदिया ने भी अपनी 1 माह की तनख्वा बाढ़ पीड़ितों के  के लिए देने की घोषणा की।