ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
राष्ट्र उत्थान में सब साथ आयें : शिवराज सिंह
July 26, 2019 • राहुल यादव

 गोरखपुर। सदस्यता अभियान के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी से समाज के हर वर्ग के लोग जुड़ें। अभियान से समाज के किसी भी वर्ग का व्यक्ति अछूता न रहे, यही सदस्यता अभियान का मूल उद्देश्य है। पार्टी का सदस्यता अभियान सिर्फ अभियान न होकर राष्ट्र उत्थान का महायज्ञ है, जिसमें प्रत्येक वर्ग की सहभागिता और प्रत्येक कार्यकर्ता की भूमिका महत्वपूर्ण है। राष्ट्र उत्थान के इस अभियान में सब साथ आयें। 

           शिवराजसिंह चौहान शुक्रवार को गोरखपुर में सदस्यता अभियान के कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। सदस्यता अभियान की इस कार्यशाला के पूर्व चौहान दाउदपुर अनुसूचित जाति बस्ती में आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। जिसके पश्चात गोरखपुर क्लब में सदस्यता कार्यक्रम में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण की अपील की।

          भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने गोरखपुर, उत्तर प्रदेश में आयोजित सेक्टर विस्तारक कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि सदस्यता अभियान के कार्यक्रम में राष्ट्र उत्थान के लिए भारतीय जनता पार्टी से जुड़ने का आग्रह करते हुए कहा कि हमारा उद्देश्य सरकार बनाना नहीं, बल्कि देश की सेवा है। राष्ट्र उत्थान एवं विकास के हर लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हम एकजुट होकर प्रयास करें। उन्होंने कहा कि सदस्यता अभियान सामाजिक सरोकारों से जुड़ा अभियान है, इसलिए हम हर कार्यक्रम की शुरूआत पौधारोपण के साथ कर रहे हैं। उन्होंने पौधारोपण का आग्रह करते हुए कहा कि धरती पर जीवन की रक्षा के लिए पेड़-पौधे अवश्य लगायें। स्वस्थ व्यक्ति ही राष्ट्र के उत्थान में उचित भागीदारी निभाने में सफल होता है। इसलिए आपसे अनुरोध है कि जिम्मेदार नागरिक की भांति अधिक से अधिक पौधे लगाने का प्रयास करें।

                उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक गौरवशाली, वैभवशाली और शक्तिशाली भारत का निर्माण हो रहा है। आज भारतीय नागरिक दुनिया के किसी भी कोने में जाते हैं तो गर्व से सीना तानकर कहते हैं कि हम भारतीय हैं। हमारी भारतीय जनता पार्टी केवल चुनावी पार्टी नहीं है। हम भारत के नवनिर्माण का अभियान चला रहे हैं। इस अभियान में प्रत्येक नागरिक को हिस्सा लेना चाहिए जिसके लिए उसे भाजपा परिवार का हिस्सा बनना चाहिए।