ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
संकेतक सूचकांक सूची में टॉप टेन में आगरा और इलाहाबाद मंडल
September 14, 2019 • राहुल यादव

लखनऊ।

  रेलवे बोर्ड ने  जटिल, इंटरडिपेंडेंट और ढेर सारे प्रदर्शन मापदंडों की निगरानी के लिए जोनल रेलवे और डिवीजनों के लिए मुख्य निष्पादन संकेतक सूचकांक  (KEY PERFORMANCE INDICATOR-KPI) तैयार किए हैं। इस KPI अवधारणा के तहत रेलवे बोर्ड और संबंधित ज़ोनल रेलवे के बीच पारस्परिक रूप से सहमत परफॉरमेंस ईंडिकेटरों के आधार पर एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं और इसी तरह की व्यवस्था किसी विशेष वित्तीय वर्ष में प्राप्त उद्देश्यों पर आपसी सहमति के आधार पर जोनल रेलवे और डिवीजन के बीच भी की जाती है।

      संरक्षा कार्य- मानव रहित लेवल क्रॉसिंग का उन्मूलन, मानवयुक्त लेवल क्रॉसिंग का इंटरलॉकिंग, ट्रैक नवीनीकरण इत्यादि।

     बिज़नेस और वित्तीय प्रदर्शन- कुल राजस्व, विविध आय, प्रारंभिक माल लोडिंग, प्रारंभिक यात्री यातायात आदि।

      मोबिलिटी, थ्रूपुट और कैपेसिटी यूटिलाइजेशन-ट्रेनों का औसत इंटरचेंज, एनटीकेएम, वैगन टर्नअराउंड, स्थायी गति प्रतिबंध को हटाना, ट्रेनों की औसत गति आदि।

    एसेट विश्वसनीयता - सिग्नल फ़ेल्योर की संख्या, रेल फ़ेल्योर की संख्या, वेल्ड फ़ेल्योर की संख्या, इलेक्ट्रिक लोको की संख्या, डीज़ल लोको फ़ेल्योर की संख्या, ओएचई फ़ेल्योर की संख्या, कोच डिटैचमेंट।

    मेल एक्सप्रेस की पंक्चुएलिटी परफॉर्मेंस- PAM का ऑटोमेटिक कंप्यूटराइज्ड डाटा लिया जाता है।

इन 05 मुख्य निष्पादन संकेतकों को डिवीजनों, जोनल रेलवे और रेलवे बोर्ड और भारतीय रेलवे पर सभी 68 डिवीजनों के KPI स्कोर को बहुत बारीकी से मॉनिटर किया जाता है, जो हर महीने डिवीजन के समग्र विकास के साथ-साथ किसी भी कमी को दर्शाने और उसमे सुधार करने का अवसर प्रदान करता है।

महाप्रबंधक  राजीव चौधरी के कुशल नेतृत्व में उत्तर मध्य रेलवे ने बेहतर यात्री और माल यातायात सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कई अल्प और दीर्घकालिक पहल की हैं।  चौधरी के कुशल मार्गदर्शन में और प्रमुख विभागाध्यक्षों और मंडल रेल प्रबंधक तथा उनकी टीम के सतत प्रयास से  उत्तर मध्य रेलवे ने यह कठिन उपलब्धि हासिल की है, जिसमें उत्तर मध्य रेलवे के दो मंडलों आगरा और इलाहाबाद ने रेलवे बोर्ड की जारी अगस्त माह के केपीआई पर आधारित भारतीय रेल के 68 डिवीजनों में 10 शीर्ष मंडलों में स्थान बनाया है। आगरा मंडल ने 89.9% स्कोर के साथ चौथा स्थान हासिल किया है, जबकि इलाहाबाद मंडल ने कुल 87.1% KPI स्कोर के साथ 10 वां स्थान हासिल किया है। महाप्रबंधक  राजीव चौधरी ने इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए मंडल रेल प्रबंधकों और उनकी टीमों की सराहना की और समग्र संगठनात्मक हित में और अधिक मेहनत करने को कहा है।