ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
स्टेशन की सफाई व्यवस्था में सहयोग के लिए यात्रियों से अनुरोध  
July 19, 2019 • राहुल यादव

         

स्टेशन की सफाई व्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार होगा यात्रियों से अनुरोध है कि पानी की बाली बोतल को इधर-उधर न फेकें, बोतल क्रशिंग मशीन में डालने का कष्ट करें एवं रेल प्रशासन का सहयोग करें। इससे स्टेशन एवं स्टेशन परिमर गन्दगी मुक्त होगा तथा स्वच्छता में वृद्धि होगी। रेलवे ने स्टेशनों पर अलग-अलग कचरे के संग्रह के लिए अलग-अलग डस्टविन की व्यवस्था की गयी है।   प्रधानमंत्री ने पूरे में स्वछता के प्रति मुहीम चलायी है. जिसका असर अब दिख भी रहा है. इलाहाबाद मंडल ने सफाई को एक मिशन के रूप में लिया है फलस्वरुप  इलाहाबाद एवं कानपुर स्टेशन पर मशीनीकृत सफाई की जा रही है, जिस कारण इलाहाबाद और  कानपुर स्टेशन पर सफाई व्यवस्था अलग रूप में नजर आती है। इसी कड़ी में स्वच्छ रेल स्वच्छ भारत अभियान के तहत इलाहाबाद मंडल के 06 प्रमुख स्टेशनों अलीगढ, टुंडला, फफूद, इटावा, फतेहपुर एवं मिर्जापुर स्टेशनों पर भी सघन मशीनीकृत सफाई व्यवस्था प्रारंभ की जा रही है जिसके अंतर्गत मिर्जापुर स्टेशन पर गत रविवार ( दिनांक 14.07.2019) एवं अलीगढ़ स्टेशन पर गत मंगलवार (दिनांक 16.07.2019) से मशीनीकृत सफाई व्यवस्था प्रारम्भ कर दी गई है। मिर्जापुर स्टेशन पर मशीनीकृत सफाई व्यवस्था का शुभारम्भ वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक थी मनु प्रकाश दुवे तथा अलीगढ़ स्टेशन पर वरिष्ठ मंडल संकेत एवं दूर संचार इंजीनियर व  अलीगढ़ मुकेश कुमार की उपस्थिति में किया गया शेप 04 स्टेशनों पर शीघ्र ही मशीनीकृत सफाई व्यवस्था प्रारंभ की जाएगी।

   मिर्जापुर स्टेशन पर 15, अलीगढ़ स्टेशन पर 27 मशीनों से सघन मशीनीकृत सफाई की जा रही है तथा टुंडला स्टेशन पर 20, फफूद स्टेशन पर 16, इटावा स्टेशन पर 20 तथा फतेहपुर स्टेशन पर 14 मशीन पहुंच चुकी है और अति शीघ्र इन स्टेशनों पर भी मशीनीकृत सफाई प्रारंभ कर दी जाएगी । 

बहुत से यात्रीगण पानी पीने के पश्चात स्टेशन या स्टेशन परिसर में पानी की बोतल इधर-उधर फेंक देते हैं जिस कारण प्लेटफॉर्म  एवं स्टेशन परिसर में गन्दगी फैलती है। पानी की बोतलों का पुनः प्रयोग रोकने के लिए इलाहाबाद जं के मिटी माइड में ए एच व्हीलर के बगल में बोतल क्रशिंग मशीन लगाई गई है एवं कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर  बोतल  क्रशिंग मशीन लगाये जाने की योजना है। बोतल क्रशिंग मशीन से  अनुपयुक्त बोतलों  को नष्ट किया  है। इस मशीन से स्टेशन की सफाई व्यवस्था में अभूतपूर्व सुधार होगा यात्रियों से अनुरोध है कि पानी की बाली बोतल को इधर-उधर न फेकें, बोतल क्रशिंग मशीन में डालने का कष्ट करें एवं रेल प्रशासन का सहयोग करें। इससे स्टेशन एवं स्टेशन परिमर गन्दगी मुक्त होगा तथा स्वच्छता में वृद्धि होगी। रेलवे बोर्ड के निर्देशानुसार स्टेशनों पर अलग-अलग कचरे के संग्रह के लिए अलग-अलग डस्टविन की व्यवस्था की गयी है। यात्रियों को निरंतर जागरूक किया जा रहा है कि कचरा डस्टबिन में ही डालें स्टेशन परिसर, प्लेटफार्मों पर या इधर उधर न फेंके इससे अनेक प्रकार की बीमारियों फैलती है साथ ही साथ यात्रियों से अनुरोध है कि ट्रेन में यात्रा करते ममय कोई भी खाद्य सामग्री ट्रैक के आस पास न फेंके इसमे बीमारियों फैलती हैं और ट्रैक के पास या ट्रैक पर आवारा पशुओं के आने एवं उनके कटने की संभावना बनी रहती है जिस कारण ट्रेन परिचालन भी प्रभावित होता है। मंडल के अंतर्गन मशीनीकृत सफाई व्यवस्था मंडल रेल प्रबंधक अमिताभ के निर्देशन में एवं वरिष्ठ मंडल पर्यावरण गृह रख रखाव प्रबंधक  शिव सिंह के निर्देशन में किया जा रहा है।