ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
 हर वर्ष रु 06 करोड़ की बचत करेगा इलाहाबाद मंडल
August 6, 2019 • राहुल यादव

प्रयागराज। इलाहाबाद मंडल ने पर्यावरण संरक्षण के लिए  इलाहाबाद मण्डल में एलएचबी  रेक से चलने वाली गाड़ियों जैसे प्रयागराज एक्सप्रेस, श्रमशक्ति एक्सप्रेस, हमसफर एक्सप्रेस, इलाहाबाद-उधमपुर एक्सप्रेस, कानपुर- नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस गाड़ियों के कोचों में पावर कार के स्थान पर एचओजी के माध्यम से बिजली प्रदान करने की व्यवस्था शुरू की गयी है। अभी तक इलाहाबाद मंडल की एलएचबी  रेक गाड़ियों में पावर कार के माध्यम से कोचों की लाईट, पंखे एवं वातानुकूलित कोचों के उपकरण चलाये जाते हैं। इन सभी रेक में कुल 14 पॉवर कार प्रयोग किये जाते हैं अब पॉवर कार के स्थान पर  एचओजी  (Head on Generation) से  बिजली दी  जा रही है जिसके अंतर्गत इलाहाबाद -आनंद विहार हमसफ़र एक्सप्रेस एवं कानपुर-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस में जुलाई 2018 में, कानपुर-नई दिल्ली श्रमशक्ति एक्सप्रेस में 24.06.2019, इलाहाबाद -नई दिल्ली प्रयागराज एक्सप्रेस में इसके 35 वर्ष पूर्ण होने के शुभ अवसर पर दिनांक 16.07.2019 तथा इलाहाबाद-उधमपुर एक्सप्रेस में 20.07.2019 से  एचओजी  की सुविधा प्रारंभ की गयी है  एचओजी   सुविधा के अंतर्गत इलेक्ट्रिक इंजन के माध्यम से ही कोचों में विजली प्रदान की जाती है जिससे पॉवर कार में खर्च होने वाले डीजल की बचत हो रही है। इलाहाबाद मंडल की  एलएचबी  रेक गाड़ियों में कुल 14 पावर कार प्रयोग किये जाते हैं जिनके चलने पर प्रतिदिन लगभग 5000 लीटर डीजल खर्च होता है साथ ही साथ ध्वनि एवं वायु प्रदूषण भी होता है। पावर कार के स्थान पर  एचओजी   सुविधा से प्रतिमाह लगभग रु 50 लाख की बचत होगी अर्थात प्रतिवर्ष लगभग रु 06 करोड़ की बचत होगी इसके अतिरिक्त पॉवर कार के अनुरक्षण रख रखाव खर्च में भी कमी आयेगी अभी तक प्रत्येक रेक में 02 पावर कार प्रयोग किये जाते हैं, भविष्य में विशेष परिस्थिति हेतु एक पावर कार रेक के साथ रहेगा एवं एक पावर कार को हटाकर उसके स्थान पर एक यात्री कोच लगाये जाने पर विचार भी  किया जा सकता है इस व्यवस्था के तहत प्रत्येक गाड़ी में अधिक यात्री यात्रा कर सकेंगे एवं रेलवे की आय में भी वृद्धि होगी।