ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
आई.आई.एल.एम. में एफ.डी.पी. का समापन
January 11, 2020 • राहुल यादव

लखनऊ।

उद्यमिता और नवाचार को दुनिया भर में विकास के इंजन के रूप में मान्यता दी गई है । उद्यमशीलता की गतिविधियों से रोजगार पैदा होता है और नई ऊंचाइयों को हासिल करके सफलता मिलती है । इस बदलते हुये वातावरण से तालमेल बनाये रखने के लिये शिक्षाविदों को नये कौशल सीखना अत्यन्त आवश्यक है । इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए आई . आई . एल . एम . लखनऊ में डॉ . ए . पी . जे . अब्दुल कलाम टेक्निकल यूनिवर्सिटी के सहयोग से ज्ञज से संबद्ध संस्थानों के शिक्षकों के लिये प्रैक्टिसिंग इंटरप्रेनरशिप एंड इनोवेशन विषय पर एक फैकल्टी डेवेलपमेन्ट प्रोग्राम का आयोजन दिनांक 7 - 11 जनवरी , 2020 के मध्य किया गया । इस फैकल्टी डेवेलपमेन्ट प्रोग्राम में । ज्ञ से संबद्ध संस्थानों के 35 से अधिक शिक्षकों ने भाग लिया । प्रो० विनय कुमार पाठक , कुलपति , डॉ0 ए . पी . जे . अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय इस एफडीपी कार्यक्रम के प्रमुख संरक्षक हैं और डॉ नायला रूश्दी , निदेशक आई . आई . एल . एम . , लखनऊ इस एफडीपी कार्यक्रम के संरक्षक रहे । एक सप्ताह के इस कार्यक्रम में उद्यमिता के क्षेत्र में हाल के घटनाक्रमों को कवर किया गया । प्रतिभागियों को नवाचार का अभ्यास करने और रचनात्मक सोच कौशल विकसित करने का तरीका सीखने को मिला । एफडीपी के दौरान उन तरीकों और प्रथाओं का प्रशिक्षण दिया गया जो नए हैं और स्टार्टअप के लिए आवश्यक हैं । एफडीपी के दौरान ट्रेनर्स Prof Sushil Kumar ( Professor , IIM Lucknow ) , Prof . Pradeep Kr . Srivastava ( Former Dy . Director , CDRI ) , Mr . Kaustav Majumdar ( Serial Entrepreneur & Chairman , CDA , West Bengal Government Smart City Project ) . Mr . Satendra Kumar ( President , IIC - KIET ) . Dr . V . K . Arora ( CEO , Incubation Centre , GNCTD ) , Mr . Sandeep Dwivedi ( Innovation Officer , DST , Govt . of Uttar Pradesh ) and Ms . Mamta Chauhan ( Faculty , IEDUP ) ने उद्यमिता और नवाचार के विभिन्न पहलुओं पर प्रतिभागियों को प्रशिक्षित किया । ट्रेनरों ने प्रतिभागियों को उपयोगी अध्ययन सामग्री भी प्रदान की । एफ . डी . पी . का समापन प्रतिभागियों को प्रमाण - पत्र वितरण के साथ हुआ । जिसमें सबसे पहले एफडीपी कोआर्डिनेटर डा . अभिनव चन्देल ने एफडीपी की रिपोर्ट प्रस्तुत की । मुख्य अतिथि प्रोफेसर रोमेन्दु रॉय , डा० नायला रूश्दी , निदेशक , आई . आई . एल . एम . तथा डीन डा० शीतल शर्मा ने प्रतिभागियों को प्रमाण - पत्र प्रदान किये । प्रतिभागियों ने अपने अनुभव साझा करते हुये कहा कि उन्होंने आई . आई . एल . एम . में 5 अदभुत दिन गुजारे । इस दौरान उन्हें काफी कुछ सीखने को मिला जो उनके कैरियर में अत्यन्त उपयोगी होगा ।