ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर
हर हाल में सबका साथ देते और मदद पहुंचाते हैं समाजवादी - अखिलेश यादव
May 11, 2020 • राहुल यादव • लखनऊ

अखिलेश यादव ने कहा है कि सन् 2022 तक सबको घर देने का वादा करने वाले सत्ताधारी आज बेघर भटकते भूखे-प्यासे लोगों को एक वक्त की रोटी तक नहीं दे पा रहे हैं। इतिहास गवाह रहा है, सड़कों पर उतरी जनता ने सर्वशक्तिमान होने का दम्भ-भ्रम रखने वाले एक से एक बड़ों को पैदल कर दिया है। जिस प्रकार आत्मप्रशंसा में मगन सरकार अतिकेन्द्रित ढुलमुल फैसलों की वजह से व्यवस्था करने में असफल रही है, उसका खामियाजा जनता भुगत रही है। यदि सरकार रोजगार और खाने का प्रबंध कर दे तो कोरोना को सरकार नहीं जनता हरा देगी।
    सरकारी दावों के बावजूद झांसी, ललितपुर, मथुरा समेत कई सीमावर्ती क्षेत्रों से मजदूर अभी भी फंसे है। प्रदेश में मजदूरों की सुरक्षा भगवान के भरोसे है। ललितपुर में तिपहिया गाड़ी पलटने से 10 मजदूर घायल हो गए। सभी मजदूर महाराष्ट्र से जौनपुर और प्रतापगढ़ लौट रहे थे। विगत डेढ माह में दूसरे राज्यों से लौटने वाले सैकड़ों कामगारों एवं श्रमिकों की दुखद मौत हो चुकी है।
  समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा  जो ट्रेनें  भाजपाराज में चलने जा रही है, सब एसी कोच हैं। किराया भी राजधानी के बराबर है। इन ट्रेनों में जनरल या स्लीपर के डिब्बे नहीं होंगे। इन सुविधाओं का लाभ सम्पन्न वर्ग ही ले सकेगा। गरीब तो इनके नजदीक भी नहीं जा पाएगा। भाजपा को गरीब की जान की वैसे भी कहां परवाह है?
    एक महिला नासिक से मजदूरों के साथ चली। यह यात्रा 850 किलोमीटर की है। ललितपुर के बार थाना क्षेत्र के बरखिरिया गांव निवासी पुनू नासिक में मजदूरी करते थे। लाॅकडाउन के कारण काम धंधा बंद हो गए। यह परिवार पैदल ही चल दिया। इस बीच उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश की सीमा पर बालाबेहट पहुंचने के बाद पुलिस-प्रशासन ने  पुनू एवं उनकी पत्नी  राजाबेटी को आगे बढ़ने से रोक दिया। महिला को वही पर प्रसव पीड़ा होना शुरू हो गई। दर्द बढ़ने पर साथी महिलाओं ने घेरा बनाकर उसकी नार्मल डिलीवरी कराई।  राजाबेटी ने एक पुत्री को जन्म दिया है।
  पूर्व मुख्यमंत्री  ने कहा  नासिक से ललितपुर तक का अत्यंत कष्टकारी सफर पैदल चलकर बालाबेहट पहुंची गर्भवती महिला की शासन प्रशासन ने नहीं ली कोई सुधि। समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने महिला के गांव पहुंचकर जाना जच्चा-बच्चा का हाल। उन्होंने मानव धर्म निभाते हुए अपने संसाधनों से मदद की। हर हाल में सबका साथ देते और मदद पहुंचाते हैं समाजवादी।