ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर
हिंदू नाम बता कर ठेले पर सब्जी बेचने वाले मुस्लिम को भाजपा विधायक ने भगाया!
April 29, 2020 • मनोज श्रीवास्तव

  • विधायक बोले- जैसे वीडियो सामने आए, उससे हिन्दू भयभीत

  • सब्जी बेचने वाला मुस्लिम है और हिन्दू नाम से सब्जी बेच रहा था-राजपूत


मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। करोना काल ने समाज में हिंदू और मुस्लिम के बीच बड़ी दीवार खींच दी है। उस पर सोशल मीडिया में वाइरल हो रहे वीडिओज ने आग में घी का काम किया है।ताजा मामले में लखनऊ के पॉस इलाके गोमतीनगर में असली नाम छुपा कर हिन्दू नाम से सब्जी वाले मुस्लिम ठेले वाले के साथ चरखारी से भाजपा विधायक बृजभूषण राजपूत के भगाने का मामला तूल पकड़ लिया है।कल ही मुसलमानों से सामान न खरीदने की बात करने वाले देवरिया की बरहज सीट से विधायक सुरेश तिवारी की हरकत पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने चेतावनी दिया था लेकिन आज फिर से वही हरकत दूसरे विधायक ने अख्तियार कर लिया। प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने सुरेश तिवारी को नोटिस  दिया है।उसके बावजूद पार्टी विधायकों के द्वारा मुस्लिम समुदाय के खिलाफ दिए जा रहे बयान रुक नहीं रहे हैं।  विधायक ने मोहल्ले में हिंदू नाम से सब्जी बेच रहे एक मुस्लिम शख्स को न केवल भगा दिया बल्कि उसे फिर वापस मुहल्ले में न आने की चेतावनी भी दी।इस संदर्भ में जब दोका सामना ने विधायक बृजभूषण शरण राजपूत से पूंछा तो उन्होंने कहा कि सब्जी वाला मुस्लिम था और हिन्दू नाम से सब्जी बेच रहा था, जो कि गलत है।  इसके अलावा विधायक ने हवाला दिया कि कोरोना संकट के बीच जो वीडियो सामने आ रहे हैं, उसकी वजह से हिन्दू भयभीत है।विधायक ने कहा कि मैंने उस व्यक्ति से सब्जी ली थी, लेकिन हिन्दू भावना के साथ खिलवाड़ करने की जरूरत नहीं है। उसका नाम रहमुद्दीन है, लेकिन राजकुमार नाम बता रहा था। उसके पास सब्जी बेचने का पास नहीं था। अगर मुसलमान हो तो मुस्लिम नाम ही बताना चाहिए। विधायक ने दावा किया कि कानपुर में 16 सब्जी वाले कोरोना पॉजिटिव निकले हैं। सब्जी बेचने वाले शख्स को ग्लव्स.-मास्क पहनना चाहिए। इस तरह गुमराह कर हिन्दू भावनाओं से खेल रहे हैं और मुसलमान होकर हिन्दू नाम बता रहे हैं। जिस तरह की वीडियो सामने आ रही हैं, झूठ बोलकर सामान बेचना गलत है। हमने सामाज को तोड़ने वाली बात नहीं कही है। गौरतलब है कि बीते दिन ही बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भाजपा के बयानवीर विधायकों को चेतावनी दी थी और कड़े एक्शन की बात की थी।उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह का कहना है कि जिन विधायकों ने बयान दिया है उनपर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने एक्शन लेने की बात कही है। प्रदेश अध्यक्ष ने भी एक्शन लिया है और नोटिस जारी किया है। किसी भी व्यक्ति को समाज को बांटने वाला बयान देने का अधिकार नहीं है।