ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
फिर पांव पसार रही नकली करेंसी
February 4, 2020 • मनोज श्रीवास्तव
मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। आतंकवाद और नकली करेंसी पर करारा प्रहार बता कर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नोट बंदी किया था।उनके सरकार में रहते ही नकली करेंसी के कारीबरी प्रधानमंत्री के दावे की हवा निकाल चुके हैं। जब नोट बंदी हुई है यूपी में करोड़ों रुपये की नकली करेंसी पकड़ी जा चुकी है। ताजा मामला राजधानी लखनऊ के है। विभूतिखण्ड के थाने के चिनहट तिराहे से नकली करेंसी गिरोह में शामिल एक सप्लायर अंकित रॉय को मुखबिर की सूचना पर यूपी एसटीएफ को गिरफ्तार करने में सफलता मिली।
बताया जाता है कि आरोपी राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों में नकली करेंसी अपने एजेंटों को बांट रहा था। जिसे विभूति खण्ड के चिनहट चौराहे से घेर कर पकड़ा गया। जब उसकी तलाशी ली गयी तो आरोपी के पास से 1, 48, 400  रुपये के जाली नोट बरामद बरामद हुए।पुलिस के अनुसार पकड़े गये आरोपी अंकित राय ने पूंछ-तांछ में बताया कि वह बिहार से जाली करेंसी लॉकर पूर्वी उत्तर प्रदेश के जिलों में खपाता है। वह सर्वाधिक खपत लखनऊ, आजमगढ़, वाराणसी, मऊ, जौनपुर, बस्ती, अयोध्या, अंबेडकरनगर, बाराबंकी, उन्नाव व कानपुर जनपदों में करता था। यह नकली करेंसी वह 33 प्रतिशत मुनाफे पर बिहार के सरगना बंटी से लाता है। पुलिस सूत्रों के अनुसार बंटी से नोटों की खेप लाकर दिल्ली विधानसभा चुनाव में भी बांटा गया है।