ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
रू40 लाख तक  की सडकों में आरक्षण व्यवस्था लागू होगी  -केशव  प्रसाद मौर्य
December 29, 2019 • राहुल यादव
लखनऊ:केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि लोक निर्माण विभाग में अन्तर्गत 40 लाख रूपये तक के ठेके में आरक्षण की व्यवस्था की शुरूआत की जा रही है, उन्होंने बताया कि 40 लाख रूपये तक की सड़को में 21 प्रतिशत अनुसूचित जाति, 02 प्रतिशत अनुसूचित जन जाति, 27 प्रतिशत पिछडी तथा 10 प्रतिशत सामान्य वर्ग के गरीबों के लिये  आरक्षण देने की तैयारी करने कर रहे हैं, इससे लोगों को रोजगार मिलेगा । उन्होंने कहा कि इससे सडक बनवाने का अधिकार कुछ विशेष लोगों को विशेषाधिकार समाप्त होगा। उन्होंने यह भी कहा कि जो नवजवान सिविल इंजीनियरिंग कर चुके हैं,बेरोजगार है, उसके लिये भी एक प्लान बनाया जा रहा है, ऐसे बच्चों को जो ईटेडरिंग, 10 लाख रूपये का योजना तैयार करने जा रहे  है कि उन्हें  भी विभाग मे काम मिले, बहुत जल्द ही यह योजना सभी के बीच लाने का प्रयास किया जायेगा। केशव प्रसाद मौर्य आज सदर विधान सभा अन्तर्गत ग्राम सभा अकोढी में 07 करोड 30 लाख से अधिक के पुल का शिलान्यास के अवसर पर आयोजित जन सभा को सम्बोधित करते हुये व्यक्त किये। इस अवसर पर मौयै के द्वारा लगभग 28 करोड की लागत की 08 परियोजनाओं का शिलान्यस व अकोढी-बबुरा मार्ग पर कर्णावती नदी पर 07 करोड 30 लाख से अधिक की धनराशि से बनने वाले पुल का भी शिलान्यास किया गया। इसी अवसर पर विभिन्न योजनाओं से निर्मित 328.40 लाख की लागत से 09 परियोजनाओं/सडकों का लोकार्पण किया गया। इस अवसर पर  उपमुख्यमंत्री द्वारा सांसद  अनुप्रिया पटेल व  उर्जा राज्य मंत्री  रमाशंकर सिंह पटेल व विधायक  रतनाकर मिश्र,  विधायक मझंवा  सुचिश्मिता मौर्य के द्वारा जनपद में विभिन्न जरूरी सडकों व गंगा नदी पर पीपापुल बनाने की मांग की स्वीकृति प्रदान करते हुये लगभग 100 करोड की लागत से विभिन्न सडकों के बनाने की घोषणा भी की। उन्होंने कहा कि इस वित्तीय वर्ष में जितने कार्य हो सकेगा करायेगें ,शेष को अगले वित्तीय वर्ष में बनवाने का आश्वासन दिया। उन्होंने अदलहाट-भुइली-शेरवा सम्पर्क मार्ग 13 किलोमीटर के लिये 26 करोड देने की घोषणा की। इसी प्रकार पडरी-छीतमपुर- सक्तेशगढ 18 किलोमीटर सम्पर्क मार्ग के लिये 45 करोड तथा कछंवा-जमुआ-राजातालाब तक 12 किलोमीटर की सडक की लागत 19 करोड इस प्रकार लगभग 100 करोड की धनराशि सडकों के लिये घोषणा  उप मुख्यमंत्री ने की। उन्होंने कहा कि इन सडकों के बनने से इस क्षेत्र के जनता की काफी समस्या का समाधान होगा। उन्होंने कहा कि पीपे के पुल की मांग पर अधिकारियों को निर्देश दिया कि कहां बन सकता है ,रिपोर्ट दें। उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि पीपे का पुल हर जगह समाप्त हो और वहां पर नया पुल का निर्माण हो। उन्होंने कहा कि तीन वर्ष से भी कम समय में वर्तमान सरकार द्वारा उ0.प्र0 में चर्तुमुखी विकास किया गया है। उन्होंने नागरिकता संशोधन अधिनियम-2019 पर बोलते हुये कहा कि यह कानून किसी की नागरिकता लेने के लिये अपितु नागरिकता देने के लिये हैं। कहा कि किसी के बहकावे में न आयें, कानून के बारे में पूरी जानकारी कर कानून व्यवस्था को बनाये रखते हुये शांति बनाये रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि किसी के द्वारा राष्ट्रीय सम्पति को नुकसान पहुँचाया जायेगा, उसे उसकी भरपाई करना होगा। उत्तर प्रदेश व देश विकास के पथ पर आगे बढ रहा है, कहा कि    नरेन्द्र मोदी दुनिया के सबसे मजबूत प्रधान मंत्री है। आयुष्मान योजना व किसान सम्मान निधि की चर्चा करते हुये अधिकारियों को निर्देशित किया कि अधिक से अधिक लोगों का रजिस्ट्रेशन करायें ताकि शत प्रतिशत लोगों को योजना का लाभ मिल सके। कहा कि सरकार का उद्देश्य है  सबका साथ -सबका विकास व सबका विश्वास है। उन्होंने कहा कि सडकों की गुणवत्ता खराब करने वाले ठेकेदार व अधिकारियों की खैर नहीं है ,सड़क बनानी पडेगी अन्यथा जेल की हवा खानी पडेगी।   कहा कि यू0पी0 बोर्ड के परीक्षा में टाप-20 बच्चों के घर तक व उसके स्कूल तक यदि पक्की सडक नहीं बनी है तो पक्की सडक लोक निर्माण विभाग के द्वारा बनायी जायेगी और उस सडक का नाम ए0पी0जी0 अब्दुल कलाम गौरव पथ रखा जोयगा और उस शिलापट्ट पर उस बच्चे का नाम लिखा जायेगा। उन्होंने कहा कि जो गांव सड़क से आच्छादित होने से बच गये ,उन गांवों का भी सर्वे कराकर सड़कों का निर्माण कराया जायेगा। इस अवसर पर सांसद  अनुप्रिया पटेल, उर्जा राज्य मंत्री  रमाशंकर सिंह पटेल,  विधायक सदर  रत्नाकर मिश्र,  विधायक  सुचिश्मिता मौर्य, आदि प्रमुख रूप से मौजूद  रहे। 
इसके बाद  उप मुख्यमंत्री चुनार तहसील के अन्तर्गत राधाकृष्ण बनवासी छात्रावास में आयोजित देशज दिवस के कार्यक्रम में भी सम्मिलित होकर छात्र/छात्राओं को सम्बोधित किया।