ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
सरकार से दलित युवक की मौत का हिसाब मांगेगी भारतीय जनता पाटी: राकेश सिंह
January 25, 2020 • राहुल यादव

जबलपुर। सागर में गरीब दलित युवक धनप्रसाद ने जिंदा जलाने की घटना के पहले पुलिस प्रशासन के सामने गुहार लगाई, लेकिन इस सरकार ने अपनी वोटबैंक और तुष्टिकरण की नीति के चलते कोई त्वरित कार्रवाई नहीं की। उसे जलाए जाने के बाद भी प्रदेश सरकार ने उसकी सुध नहीं ली। जब भाजपा ने प्रतिक्रिया शुरू की और राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के उपाध्यक्ष ने लताड़ लगाई, तब उसे एयरलिफ्ट करके दिल्ली भेजा गया, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। सरकारी उपेक्षा के चलते आखिरकार उसकी मौत हो गई। लेकिन मैं मुख्यमंत्री कमलनाथ को यह बता देना चाहता हूं कि किसी की जान इतनी सस्ती नहीं होती। इसलिए हम 28 जनवरी को सागर जाएंगे और सरकार से दलित युवक की मौत का हिसाब मांगेंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने शनिवार को जबलपुर में मीडिया से चर्चा के दौरान कही। उन्होंने कहा कि 28 जनवरी को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान और नेता प्रतिपक्ष  गोपाल भार्गव भी सागर जाएंगे और सरकार की दलित विरोधी नीति के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करेंगे।  
सरकार के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी
प्रदेश अध्यक्ष  राकेश सिंह ने कहा कि लोकंतंत्र में विपक्ष की भूमिका लोकतांत्रिक तरीके से विरोघ दर्ज करना है और भारतीय जनता पार्टी ने पूरे प्रदेश में यही किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार निकम्मी, गूंगी और बहरी है, वह विपक्ष और जनता की आवाज सुनना ही नहीं चाहती, तो हम सड़कों पर उतरकर युद्ध तो नहीं कर सकते। लेकिन सरकार के खिलाफ हमारी राजनीतिक लड़ाई जारी रहेगी और हम मुद्दों के आधार पर सरकार को कठघरे में खड़ा करते रहेंगे। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने यह तय किया है हम जनहित विरोधी नीतियों और पार्टी कार्यकर्ताओं की प्रताड़ना के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ेंगे।
निवेश आ रहा है, तो किसकी जेब में जा रहा है
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हम पिछले 14 महीनों से लगातार सुन रहे हैं कि प्रदेश में निवेश आयेगा। अगर निवेश आ रहा है, तो यह जा कहां रहा है? किसकी जेब में जा रहा है? जमीन पर तो न कोई उद्योग दिखाई देता है, न ही किसी उद्योगपति की तरफ से सकारात्मक पहल नजर आती है। उन्होंने कहा कि जो उद्योगपति यहां आना भी चाहते थे, वे यहां हो रहे भ्रष्टाचार के कारण नहीं आ रहे हैं। वे कहते हैं कि जिस तरह की शर्तें लगाई जाती हैं और जिस तरह उन्हें पर्दे के पीछे डील करने पर मजबूर किया जाता है, उसके चलते वे यहां नहीं आना चाहते।  सिंह ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है और प्रदेश में पहले कभी इस तरह का वातावरण नहीं रहा।
जनता का कांग्रेस से मोहभंग, भाजपा ही जीतेगी उपचुनाव
 राकेश सिंह ने कहा कि इस सरकार ने जनता को लेकर चलने वाली योजनाओं को बंद कर दिया है। जनता का कांगे्रेस से मोहभंग हो चुका है। कानून व्यवस्था खस्ताहाल है, किसान खून के आंसू रो रहा है। युवाओं को बेरोजगारी भत्ता नहीं मिला, माताएं-बहनें न्याय चाह रही हैं। प्रदेश सरकार भ्रष्टाचार के दम पर चलने वाली सरकार है। मध्यप्रदेश में स्थिति पूरी तरह अराजक और बेलगाम हो चुकी है और यह सरकार अराजकता की सरकार बन कर रह गई है। सरकार के एजेन्डे में जनता के हित नहीं हैं, बल्कि वह रेत और शराब के कारोबार की चिंता कर रही है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी आगामी उपचुंनाव के लिये पूरी तरह तैयार है और जनता के समर्थन से भाजपा ही अगला उपचुनाव जीतेगी।