ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
स्वच्छता में तीसरे पायदान पर पूर्व मध्य रेल, महाप्रबंधक ने किया पुरस्कृत
October 10, 2019 • राहुल यादव

हाजीपुर। भारतीय रेल के स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट-2019 में पूर्व मध्य रेल ने लंबी छलांग लगाई है । क्वालिटी काउंसिल आॅफ इंडिया द्वारा किए गए इस सर्वेक्षण में पूर्व मध्य रेल ने पिछले वर्ष की तुलना में 12 स्थानों के उल्लेखनीय सुधार के साथ भारतीय रेल के सम्पूर्ण क्षेत्रीय रेलों में इस वर्ष तीसरे स्थान पर रहा । पूर्व मध्य रेल की इस शानदार उपलब्धि पर आज मुख्यालय, हाजीपुर में आयोजित एक सेमिनार में महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने इस सर्वेक्षण में उच्च रैंक एवं तुलनात्मक सुधार से संबंधित स्टेषनों के सेक्षन इंजीनियर, स्टेषन मास्टर, हेल्थ इंस्पेक्टर तथा मुख्यालय एवं मंडलों के पर्यावरण एवं गृह रख-रखाव प्रबंधन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को पुरस्कृत किया । इस दौरान महाप्रबंधक द्वारा 21 व्यक्तिगत पुरस्कार तथा 07 सामूहिक पुरस्कार प्रदान किया गया । इस अवसर पर महाप्रबंधक ने कहा कि यह हमारे लिए काफी हर्ष की बात है कि इस वर्ष के भारतीय रेल के स्वच्छता सर्वेक्षण रिपोर्ट में पूर्व मध्य रेल ने उल्लेखनीय उपलब्धि हासिल की है । उन्होंने सेमिनार में उपस्थित सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को इसके लिए बधाई दी और स्वछता के क्षेत्र में और अधिक सुधार करने के लिए प्रेरित किया।  विदित हो कि राष्ट्रपित महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर स्वच्छता और ग्रीन स्टेषन रैंकिंग जारी की गयी थी । रेल मंत्रालय द्वारा स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत के तहत क्वालिटी काउंसिल आॅफ इंडिया ने इस साल भारतीय रेल के कुल 720 स्टेषनों का कई पैमानों पर स्वच्छता सर्वेक्षण किया । इस सर्वेक्षण में पूर्व मध्य रेल के कुल 52 स्टेषन शामिल थे । स्वच्छता के क्षेत्र में भारतीय रेल के 10 उच्च प्रगति वाले स्टेषनों में पूर्व मध्य रेल के 04 स्टेषन शामिल है । शीर्ष 04 स्टेषनों में सासाराम, सिंगरौली, अनुग्रह नारायण रोड तथा बापूधाम मोतिहारी शामिल है । इसी तरह ग्रीन स्टेषन रैंकिंग में राजेन्द्रनगर टर्मिनल प्रथम स्थान पर रहा । पूर्व मध्य रेल ने पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में कई नये आयाम जोड़े हैं तथा कई उपलब्धियां हासिल की हैं । इस क्रम में पूर्व मध्य रेल द्वारा वाटर रिसाइक्लिंग प्लांट, रिवर्स वेंडिंग क्रषर मषीन जिसके इस्तेमाल से यात्रियों को प्लास्टिक के बोतल को नष्ट करने पर गिफ्ट कूपन मिलते हैं, सेनिटरी नैपकीन डिस्पोजल, वेंडिंग मषीन एवं रैग पिकिंग मषीन आदि लगाए गए हैं । इसके अलावा कारखाना तथा लोको शेडों में बड़े संयंत्रों यथा इंसिनिरेटर एवं ईटीपी का इस्तेमाल किया जा रहा है । पर्यावरण को स्वच्छ एवं हरित रखने के लिए पूर्व बड़े पैमाने पर वृक्षारोपण भी किया गया है । इस अवसर पर अपर महाप्रबंधक अरूण कुमार शर्मा, प्रधान मुख्य यांत्रिक इंजीनियर एम.पी. सिन्हा, प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक सलिल कुमार झा, प्रधान मुख्य वाणिज्य प्रबंधक एस.के. शर्मा, प्रधान मुख्य विद्युत इंजीनियर राकेष तिवारी, मुख्य पर्यावरण एवं गृह रख-रखाव प्रबंधक सह मुख्य रोलिंग स्टाॅक इंजीनियर (कोचिंग) अतुल प्रियदर्षी, महाप्रबंधक के सचिव अमन राज सहित मुख्यालय एवं पांचों मंडलों के अधिकारीगण उपस्थित थे ।