ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
ये सरकार तो थप्पड़ मारो सरकार हो गई है: शिवराजसिंह चौहान 
January 25, 2020 • राहुल यादव
चांटा मारने वाले अधिकारियों पर सरकार को गर्व है तो प्रदेश सुरक्षित नहीं: तोमर

मुरैना। कलेक्टर और आम आदमी की इज्जत बराबर होती है। कलेक्टर जनता की सेवक है। हम अच्छे अधिकारी की इज्जत करते हैं, लेकिन आम जनता के साथ दुर्व्यवहार किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगे। राजगढ़ कलेक्टर ने सिर्फ आम लोगों को ही नहीं, बल्कि एसआई और पटवारी को भी थप्पड़ मारा है। ये सरकार तो थप्पड़ मारो सरकार हो गई है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री एवं राष्ट्रीय उपाध्यक्ष  शिवराजसिंह चौहान ने शनिवार को कैलारस में आयोजित जन आक्रोश सभा को संबोधित करते हुए कही। सभा के उपरांत  चौहान के नेतृत्व में हजारों लोगों की भीड़ ने प्रदेश सरकार के दमनकारी नीतियों के खिलाफ ज्ञापन भी दिया।
जुल्म की पराकाष्ठा कर रही निकम्मी सरकार
पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश की निकम्मी सरकार जुल्म की पराकाष्ठा कर रही है। इस सरकार ने अपना कोई वादा पूरा नहीं किया और हमारी सरकार द्वारा शुरू की गई जनहित की सभी योजनाएं बंद कर दीं। ना किसानों की कर्जमाफी हुई, ना युवाओं को बेरोजगारी भत्ता मिला। बिजली का बिल हॉफ करने का कहा था, लेकिन बिजली साफ कर दी। हजारों के बिल आ रहे हैं। किसानों को बोनस नहीं दिया। यूरिया की एक-एक बोरी के लिये मां, बच्चे सब के सब लाइनों में लगे।  चौहान ने कहा कि जनता परेशान है और मुख्यमंत्री वल्लभ भवन से बाहर नहीं निकल रहे हैं। कमलनाथ जी सुन लें, जनता से वादे किये थे उन्हें निभाना पड़ेगा। नहीं निभाएंगे तो हमें सड़कों पर आना पड़ेगा।
माफिया के नाम पर नए डाकू पैदा हो गए
 चौहान ने कहा कि कांग्रेस की सरकार माफिया के नाम पर गरीब जनता को परेशान कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने चंबल से डाकू साफ कर दिये थे, लेकिन अब माफिया के नाम पर प्रदेश में नए डकैत पैदा हो गए हैं। उन्होंने कहा कि हर तरफ भ्रष्टाचार है। एक कर्मचारी से पैसा लेकर उसका ट्रांसफर करते हैं, दूसरे से पैसा लेकर पहले का ट्रांसफर कैंसिल कर देते हैं। ये शराब बेच रहे हैं, रेत लूट रहे हैं। प्रदेश में शराब दुकानों का जाल बिछाना चाहते हैं। मैं कमलनाथ जी को चेतावनी दे रहा हूँ कि प्रदेश में शराब की कोई नई उपदुकान नहीं खुलने दूंगा। उन्होंने कहा कि इस सरकार से आम आदमी, कर्मचारी, किसान, पुलिस वाले सब परेशान हैं और सरकार के इस भ्रष्टाचार का अंत करना ही होगा। उन्होंने कहा कि अब जो उपचुनाव होगा, वह कांग्रेस को सबक सिखाने का चुनाव होगा और माँ, बहन बेटी, युवा सब मिलकर कांग्रेस को सबक सिखाएं।
मोदी जी पीड़ितों को नागरिकता दे रही,  विरोध कर रही कांग्रेस
 चौहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी भारत के लिए भगवान का वरदान बनकर आए हैं। उन्होंने कश्मीर से धारा 370 समाप्त कर दी, ट्रिपल तलाक खत्म, अयोध्या में राम मंदिर का रास्ता साफ हो गया और अगले तीन महीनों में मंदिर का निर्माण शुरू हो जाएगा। अब मोदी जी सीएए लेकर आए हैं।  चौहान ने कहा कि  पड़ोसी देशों के पीड़ित अल्पसंख्यकों की रक्षा करना हमारा धर्म है। मोदी जी उन्हें नागरिकता दे रहे तो कांग्रेस इसका विरोध कर रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को सबक सिखाना ही होगा। इसका एक तरीका तो वह है, जैसे हम आज ज्ञापन दे रहे हैं। दूसरा तरीका यह है कि अगर सरकार हमारी मांगें नहीं मानती है, तो हम मंत्रियों का सड़कों पर निकलना बंद कर देंगे।
कुशवाहा समाज राष्ट्रभक्त, अपने पसीने की खाता है
जौरा में सावित्री बाई फुले की स्मृति में आयोजित कुशवाहा समाज के सम्मेलन में पूर्व मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कुशवाहा समाज मेरे लिये बचपन का झूला, जवानी का फूला और बुढ़ापे की काशी है। मुझे राजनीति का क ख ग बाबूलाल जी कुशवाहा ने सिखाया। उन्होंने राष्ट्र और महिलाओं के उत्थान में सावित्री बाई फुले के योगदान को याद करते हुए कहा कि राष्ट्रामाता सावित्री बाई फुले ने बेटियों की शिक्षा के लिए बहुत काम किया। पुणे में बेटियों के लिये पहला स्कूल खोला, बाद में 17 स्कूल और खोले। उन्होंने छुआछूत के खिलाफ लड़ाई लड़ी और विधवा विवाह शुरू कराए। उन्होंने जीवन भर पिछड़ों के लिये लड़ाई लड़ी। हम उनके चरणों में शीश झुकाते हैं।  चौहान ने कहा कि कुशवाहा समाज एक राष्ट्रभक्त समाज है और अपने पसीने की कमाई खाता है। उन्होंने कहा कि खेती करने वाले इस समाज को उद्योगों की तरफ बढ़ना होगा। उन्होंने कहा कि यह शिक्षित और उन्नत समाज है, आइये हम इसे नशामुक्त समाज बनाएं।  चौहान ने कहा कि हमारी सरकार ने तय किया था कि एक भी नई शराब दुकान नहीं खुलने देंगे, लेकिन कांग्रेस सरकार अब शराब दुकानों की उप दुकानें खोलने जा रही है।

कानून का पालन करवाने वाले ही उल्लंघन कर रहे: तोमर

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि अगर सीएए के विरोध में कुछ लोग अपना विरोध दर्ज कर रहे हैं तो सीएए का समर्थन करने वाले कार्यकर्ताआंे को नहीं रोका जाना चाहिए। उन्होंने राजगढ़ के ब्यावरा में लोकतांत्रिक तरीके से सीएए के समर्थन में रैली निकाले जाने पर कलेक्टर द्वारा कार्यकर्ता को चांटा मारने की घटना को दुखद बताया। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में यह कैसी स्थिति निर्मित हुई है कि कानून का पालन करवाने वाले ही कानून का उल्लंघन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुझे आश्चर्य होता है कि ऐसे अधिकारियों के समर्थन में कांग्रेस के नेता अगर यह कहते हैं कि उन्हें अधिकारियों पर गर्व है, तो ऐसे लोगों के हाथ में मध्यप्रदेश और जनता सुरक्षित नहीं है।
कांग्रेस उस नेता से लोहा ले रही है, जिसने उसकी छाती पर चढ़कर 370 समाप्त की
उन्होंने कहा कि कांग्रेस, वामदल, कुछ तथाकथित बुद्धिजीवी और घुसपैठिए ही सीएए का विरोध कर रहे हैं।  तोमर ने कहा कि सीएए का जो कांग्रेस नेता विरोध कर रहे हैं। उनसे मैं यह कहना चाहता हॅू कि अगर सीएए में कुछ गलती है तो वे इसका विरोध करने की बजाय सार्वजनिक रूप से यह घोषणा करें कि कांग्रेस की अगर सरकार आई तो वे इस कानून को हटा देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस उस नेता से लोहा ले रही है, जिसने इतने वर्षों से लंबित धारा-370 को कांग्रेस की छाती पर चढ़कर समाप्त किया है। कांग्रेस नेताओं का विरोध धारा-370 को भी नहीं बचा पाए, तो सीएए का विरोध करके क्या बिगाड़ लेंगे।