ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर
यूपी के 34 अस्थाई जेलें में बंद किये गये 156 विदेशी समेत 288 कोरोना संक्रमित
April 23, 2020 • मनोज श्रीवास्तव

 

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। कोरोना महामारी छिपाने के आरोपियों पर योगी सरकार ने शख्त रुख अख्तियार करना प्रारंभ कर दिया है। राजधानी के कश्मीरी मोहल्ला म्युनिसिपल गर्ल्स इण्टर कॉलेज को अस्थाई जेल बनाया गया है।इस अस्थाई जेल में 19 पुरुष व 4 महिला विदेशी नागरिकों को बंद किया गया है। जबकि राज्य सरकार ने प्रदेश के कुल 34 जिलों में अस्थाई जेलों का निर्माण किया है। इन अस्थाई जेलों में अब तक 156 विदेशी नागरिकों समेत 288 कोरोना संक्रमितों को रखा गया है। विदेशियों में फ्रांस, मोरक्को, मलेशिया, थाईलैंड, किर्गिस्तान, कजाकिस्तान, बांग्लादेश, सूडान, फिलिस्तीन, सीरिया, माली के नागरिक शामिल हैं। लखनऊ के कश्मीरी मोहल्ला म्युनिसिपल गर्ल्स इंटर कॉलेज को अस्थाई जेल बनाया गया है। यहां 19 पुरुष और 4 महिला विदेशी नागरिक रखे गए हैं। विदेशियों में मलेशिया के 2, किर्गिस्तान के 23, कजाकिस्तान के 2, बांग्लादेश के 54, इंडोनेशिया के 41, सूडान के 4, थाईलैंड के 13 विदेशी नागरिक शामिल हैं। लखनऊ व बुलंदशहर की अस्थाई जेल में 4-4 विदेशी महिला नागरिकों को रखा गया है। इन अस्थाई जेलो में 132 भारतीय नागरिक भी बंद किये गये हैं। बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। गुरुवार को प्रदेश में 24 और नए मामले सामने आए। जिनमें लखनऊ के दो, कानपुर के 14 और आठ मामले आगरा के हैं। अब तक राज्य में 1473 संक्रमित हो गए हैं। जबकि, 1279 एक्टिव केस हैं। बुधवार देर रात तक 112 नए केस पॉजिटिव मिले थे। इनमें नेपाल मूल की एक महिला समेत 8 रोगी बहराइच के थे। वहीं, संक्रमित तब्लीगी जमातियों की संख्या एक हजार पार कर गई है। राहत की बात यह है कि 11 जिले कोरोना मुक्त हो चुके हैं। अब तक 173 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी मिल चुकी है। प्रदेश के 34 जिलों में अस्थाई जेल का निर्माण किया गया है।