ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
यूपी में 13 मौतों के साथ 776 कोरोना पॉजीटिव हुये-यूपी सरकार
April 16, 2020 • मनोज श्रीवास्तव

 

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा किअब तक यूपी में 776 लोग कोरोना से ग्रसित हुये है। प्रदेश के 48 जिले कोरोना से संक्रमित है, 69 कोरोना संक्रमित लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। यूपी में आज तक 13 लोगो की कोरोना से मौत हो चुकी है।पूल टेस्ट यूपी में शुरू जो चुके है, कल 30 टेस्टिंग की गई थी सारे निगेटिव आये है। यह एक इनफेक्शिनल डिजीज है, किसी को भी हो सकती है। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करिये तभी आप अपना स्वास्थ्य ठीक ही रख पाएंगे वहीं समाज को भी आप सुरक्षित रख सकते हैं।प्रसाद ने कहा कि हेल्प लाइन नंबरों पर आप अपनी सूचना दे सकते हैं, उससे आपको सलाह मिलेगी और चिकित्सा की सुविधा पूरी तरह निशुल्क है।उत्तर प्रदेश में आगरा, गौतमबुद्ध नगर, मेरठ व राजधानी लखनऊ सहित नौ जिलों को रेड जोन में शामिल किया गया है। इनके साथ ही जिन जिलों में कम पॉजिटिव केस हैं, उनको ऑरेंज जोन में शामिल किया गया है। उत्तर प्रदेश के 31 जिलें ऑरेंज जोन में हैं। प्रदेश के 36 जिलों को ग्रीन जोन में रखा गया है।इन सभी जिलों की समय-समय पर मॉनिटरिंग की जाएगी और बढ़ते-घटते केस पर इनको को ऊपर व नीचे के जोन में शामिल किया जाएगा।

आगरा में मौत का आंकड़ा 5 और पॉजीटिव का 167 हुआ

इससे पहले अपरमुख्य सचिवगृह अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना से निपटने के तरीके पर प्रदेश के डीएम और कप्तानों की तारीफ किया है। उन्होंने स्पष्ट किया कि मुरादाबाद में स्वास्थ्य टीम के हमला करने वालों के विरुद्ध एनएसए के साथ अन्य धाराओं में भी करवाई की जायेगी। मुख्यमंत्री ने समीक्षा में कुछ जिलों में लाँक डाउन का पालन ठीक से नही होने के कारण उनको चेतावनी दी गई है।अब हॉटस्पॉट क्षेत्रो में स्वास्थ्य टीम और सफाई कर्मियों के अलावा किसी को जाने की अनुमति नही दी जाएगी।पीलीभीत कोरोना फ्री हो गया। महराजगंज जिले में प्रथम चरण के पेसेंटो की रिपोर्ट निगेटिव आई है, दूसरी आनी बाकी है, यदि दूसरी रिपोर्ट भी निगेटिव आ गयी तो महराजगंज भी कोरोना फ्री हो सकता है। उत्तर प्रदेश में जो लोग कोरोना के मरीजों को छुपा कर रखे रहे हैं उनके विरुद्ध कार्रवाई होगी, साथ ही स्थानीय थाना और पुलिस अधिकारियों पर भी कार्रवाई होगी। इंडस्ट्रियल एरिया में जो भी इंडस्ट्री है वह तभी चालू होगी जब वहां थर्मल स्केनर मशीन और सेना टाइजर की व्यवस्था होगी। बाहर से जो लोग घर जा रहे हैं उन्हें होम कोरेण्टाईन में रखना होगा। मुख्यमंत्री ने टेलीमेडिसिन के माध्यम से चिकित्सा उपलब्ध कराने के लिए निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि मंडियों में सोशल डिस्टेंस का पूरी तरह पालन हो। नोडल अधिकारियों को सभी फोन कॉल अटेंड करने के निर्देश दिए गए हैं।20 अप्रैल से कौन-कौन काम शुरू होंगे आज उसका शासनादेश जारी किया जाएगा। प्रदेश के सभी अस्पतालों में एन 95 मास्क पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध कराया जायेगा। जो लोग अस्पतालों में कोरेन्टीन किये गये हैं, उन्हें अवधि पूरी होने के बात घर भेजा जाएगा।गेंहू क्रय केंद्रों को कल से चालू कर दिया गया था, प्रदेश में गेहूं की खरीददारी भी शुरू हो गई है।कल सदर क्षेत्र में कम्युनिटी किचन एक संदिग्ध युवक घुस गया था, इस लिए कल केंट थाना के सभी पुलिसकर्मियों का चेकप कराया गया, सभी की जांच निगेटिव आई है। प्रदेश में धारा 188 के तहत 19000 से ज्यादा एफआईआर दर्ज़ किया गया हैै। लोकडाउन में अब तक ख 77 हज़ार वाहनों की चेकिंग हुई, जिससे 7 करोड़ से ज्यादा समन शुल्क प्राप्त हुआ। कालाबाज़ारी और जमाखोरी में 424 एफआईआर दर्ज किया गया, कार्यवाही जारी है।जहां तबलीगी जमात पर कार्यवाही होनी है वहां कार्यवाही जारी है। प्रदेश के सभी लॉक डाउन क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं की होम डिलेवरी जारी है।