ALL लखनऊ प्रयागराज आगरा कानपुर बस्ती भोपाल पटना हाजीपुर झाँसी
यूपी में कोरोना के एक लाख बेड और प्रतिदिन दस हजार टेस्ट होंगे- अमित मोहन प्रसाद
May 17, 2020 • मनोज श्रीवास्तव • लखनऊ

यूपी में लगातार दूसरे दिन दो सौ से ज्यादा (208) कोरोना पॉजीटिव के मिलने के बाद राज्य सरकार की चिंता बढ़ी है। प्रदेश में अब तक कोरोना की चपेट में आकर 112 लोगों की जान गयी है। कोरोना पूरे यूपी को अपने चपेट में ले चुका है। वर्तमान में राज्य के पचाहत्तरों जिलों में कोरोना संक्रमित रोगियों की उपस्थित है। प्रदेश में अब तक 4464 मरीज कोरोना पॉजिटिव मिल चुके हैं। तबलीगी जमात और उनके संपर्क में आए कोरोना मरीजों की संख्या 1282 हो चुकी है। जबकि राज्य में सक्रिय कोरोना संक्रमण के 1716 रोगी हैं। कोरोना से अब तक 2636 रोगी स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किये जा चुके हैं। जिलेवार कोरोना पॉजीटिव रोगियों का विवरण इस प्रकार है।आगरा 810,मेरठ 330, कानपुर 316, लखनऊ 295, नोएडा 269, सहारनपुर 219, फिरोजाबाद 200, गाजियाबाद 188, मुरादाबाद 159, वाराणसी 97, हापुड़ 82, बुलंदशहर 81, अलीगढ़ 73, रामपुर में 65, बस्ती 52, रायबरेली 51, मथुरा 48, संभल 48, सिद्धार्थनगर 48, बिजनौर 46, बहराइच 45, प्रयागराज 42, जालौन 40,   संत कबीर नगर 39, प्रतापगढ़ 37, गाजीपुर 35, अमरोहा 34, सीतापुर 34, शामली 33, लखीमपुर खीरी 32, झांसी 30, बाराबंकी 29, गोंडा 29, मुजफ्फरनगर 29, जौनपुर 26,  बागपत 25,  कन्नौज 25,   बांदा 21, हाथरस 20, औरैया 20,  बदायूं 17,  अमेठी 18, महाराजगंज 18, श्रावस्ती 14, सुल्तानपुर 20, बरेली 17, हरदोई 17, श्रावस्ती 17, मैनपुरी 16, मिर्जापुर 14, पीलीभीत 14, अंबेडकरनगर 13, देवरिया 13, फर्रुखाबाद 13, गोरखपुर 13, आजमगढ़ 12, बलिया 12, बलरामपुर 12, एटा 11, फतेहपुर 9, चंदौली 8, चित्रकूट 8, कौशांबी 8, अयोध्या 7, भदोही 7, कानपुर देहात 7, कासगंज 7, शाहजहांपुर 7, उन्नाव 6, कुशीनगर 5, इटावा 4, मऊ 4 महोबा 3, हमीरपुर 2, ललितपुर 1, सोनभद्र 1 अब तक कोरोना पॉजिटिव मिले हैं।यूपी में अब तक 58239 रोगियों में कोरोना जैसे लक्षण मिले हैं। 10601 लोगों को संस्थागत क्वॉरेंटाइन में रखा गया है। स्वास्थ्य विभाग ने भी कोरोना संक्रमण के लिए सैंपल टेस्ट करने की अपनी क्षमता का विस्तार कर लिया है। वर्तमान में 6500 सैंपलों का टेस्ट प्रतिदिन हो रहा है। जिसे बढ़ाकर 10 हजार करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके अलावा बड़े पैमाने पर बेड्स की उपलब्धता पर कार्य किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश में 1 लाख बेड्स की कार्ययोजना तैयार कर मुख्यमंत्री से रजामंदी ले ली है। दो से तीन दिनों के भीतर कोरोना संक्रमण के मरीजों के लिए प्रदेश में 1 लाख बेड्स उपलब्ध करा दिया जाएगा। प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश में बीते सोमवार से ही प्रदेश में एक्टिव केस कम है और ठीक होने वाले मरीजों की संख्या अधिक होने का क्रम जारी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के सर्विलांस में 78 हजार 526 टीम लगी रहीं। इन टीमों ने 64 लाख 36 हजार 236 घरों का सर्वेक्षण किया। साथ ही 3 करोड़ 19 लाख 38 हजार 412 लोगों की जांच भी किया। उन्होंने बताया कि प्रदेश में काफी संख्या में प्रवासी कामगार व श्रमिकों की वापसी हुई है। सभी को होम क्वारंटीन में 21 दिनों तक रहने के लिए कहा गया है। होम क्वारंटीन में रहने वालों की जांच गांव निगरानी व मोहल्ला निगरानी समिति द्वारा की जा रही है। अब इसी कड़ी को और मजबूत करते हुए आशा वर्करों को भी होम क्वारंटीन में रहने वाले लोगों की जांच की जिम्मेदारी सौंपी गई है। उन्होंने बताया कि आशा वर्करों द्वारा अबतक 3 लाख 72 हजार लोगों की जांच की गई है। जांच के दौरान 414 लोगों के अंदर सर्दी, जुखाम, बुखार आदि का लक्षण पाया गया। ऐसे लोगों की रिपोर्ट पर स्वास्थ्य विभाग कार्रवाई कर रहा है।